Latest

Review hub | make money online | hindi news

हिंदी News / गर्व से पढ़ें हिंदी में

Friday, 11 May 2018

नासा आपको 60 दिनों तक बिस्तर पर रहने के लिए 100,000 $ दे रहा है - पूरी खबर पढ़े हिंदी में

कितना अच्छा हो अगर कोई सोने के भी पैसे दे। जो हाँ अमेरिकी स्पेस सेंटर नासा 100,000$ दे रही है , जिसके लिए आपको केवल 60 दिन एक बिस्तर पर बिताना होगा।








अमेरिकी स्पेस सेंटर नासा ने हाल ही में अनाउसमेंट किया है कि उन्हें ऐसे लोगों की जरूरत है जो पूरे 60 दिन तक केवल एक बिस्तर पर बिता सकें। जिसके लिए वे 100,000$ तक देने की पेशकश किया है।
सुनने में ये बेहद आसान लगता है, लेकिन ये इतना आसान भी नही है। फिर भी लाखों लोगों ने इस काम के लिए आवेदन कर चुके हैं, आप भी चाहें तो आप भी नासा के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर अपना आवेदन कर अपनी दावेदारी पेश कर सकते हैं।

नासा बहोत सलेक्टिव है इसलिए हर किसी के आवेदन को वे स्वीकार भी नहीं करेंगे, और जिन्हें वे सलेक्ट करेंगे उन्हें परीक्षणों के कई श्रृंखलाओं से होकर गुजरना पड़ेगा। जो सभी टेस्ट पास कर लेंगे केवल वे ही 100,000$ के असली दावेदार होंगे।
नासा ने जोर देकर यह भी कहा कि यह आसान नहीं होगा। कई परीक्षण जिन्हें उम्मीदवारों को करना होगा और इसलिए हमें एकदम सही उम्मीदवार ही चाहिए आवेदन करने से पहले टर्म और कंडिशन जरूर पढ़ें ।
इस टेस्ट के दौरान उम्मीदवारों को 60 दिन तक एक बेड पर बिताना होगा और आप ये समझ लें कि ये आपके घर जैसा बिस्तर नहीं होगा यह नासा द्वारा डिज़ाइन बेड होगा जो बिल्कुल भी आरामदेह नहीं होगा। इस बिस्तर को इस तरह से डिज़ाइन किया गया है जिस पर लेटने से आपका रक्तचाप बेहद कम हो जाएगा ।
इस टेस्ट के दौरान एक ही बेड सोय रहने के कारण मासपेशियां भी एठने लगेंगी, ओर हाथ पैरों के न चलने के कारण हड्डियां भी कमजोर होने लगेंगी जिससे बीमार होने की भी संभावना हो सकती है।
अब शायद आप में से कई लोगो ने अपना मन बदल लिया होगा।
इस टेस्ट के दौरान नासा यह जानने की कोशिश करना चाहती है कि अंतरिक्ष मे अंतरिक्ष यात्रियों के कार्डियोवस्कुलर प्रणाली को कैसे प्रभावित होती है।

हालांकि यह इतना मुश्किल भी नही है। आपको केवल 60 दिन ही लेटे-लेटे बिताने हैं।और उस दौरान आप चाहे कुछ भी करे TV देखें या गेम खेलें या फिर गाने सुने, या फिर हल्का फुल्का व्यायाम भी कर सकते हैं। उस टेस्ट के दौरान आपको ज्यादा से ज्यादा झूठ बोलना होगा ओर लेटे रहना होगा।
इस टेस्ट में लोगों के दो समूह होंगे जिसमें से केवल एक समूह को ही व्यायाम करने की अनुमति होगी और दूसरे समूह को केवल आराम करना होगा और आराम ही करना होगा।
किसी भी उम्मीदवार को बिस्तर से उठने को अनुमति नहीं होगी। शौचालय के लिए भी नही। वह भी आपको लेटे लेटे करना होगा।

नासा के इस टेस्ट से जो भी परिणाम आएंगे उसका उपयोग अंतरिक्ष यात्रियों के बेहतरी के लिए किया जाएगा।
जब अंतरिक्ष यात्री स्पेस में होता है तो उसका शरीर अलग प्रतिक्रिया देता है और कई बार शरीर में आये ये बदलाव से कई गंभीर परिणाम भी सामने आ सकते हैं।
इसीलिये नासा अपने अंतरिक्ष यात्रियों के बेहतरी के लिए पहले से ही यह शोध कर रही है ताकि इस शोध के दौरान आये परिणामों से वे पहले ही समझ ले कि अंतरिक्ष में क्या हो सकता है और उसका उपाय पहले ही कर लिया जाए। ताकि अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरिक्ष में कम से कम परेशानी का सामना करना पड़े।

No comments:

Post a Comment